हम दिल दे चुके सनम

एक लड़का संगीत सीखने एक घर जाता है। उसे घर की बेटी से प्यार हो जाता है लड़की भी उससे  प्यार करती है। लड़की का पिता उसकी शादी किसी और तय कर देता है। कुछ दिन बाद लड़की के पिता को उन अफेयर के बारे में पता चल जाता है। लड़की का पिता गुरु दक्षिणा में लड़के को घर छोड़ने के लिए मजबूर करता है। लड़की की शादी हो जाती है लेकिन लड़की अपने प्यार को नहीं भूल पाती है। लड़की का पति उसे समज कर उसे अपने प्यार से मिलाने का बादा करता है। क्या दोनों फिर से मिल पायेंगे?

देवदास

देवदास अपने परिवार से नीचे के परिवार की बेटी से प्यार कर बैठता है। लेकिन उसके घर वाले लड़की को नहीं अपनाते हैं और लड़की की माँ उसकी शादी किसी और लड़के से कर देती है। देवदास लड़की की याद में पागल हो जाता है और शराब पीना शुरू कर देता है। क्या देवदास की ज़िंदगी ऐसे ही बीतेगी?